सभी श्रेणियां
क्या मैं गर्भवती हूँ
गर्भावस्था - की सप्ताह दर सप्ताह गाइड
गर्भवती हो रही है
गर्भावस्था आहार
सूचियां करने के लिए गर्भावस्था
एक बेबी शावर की योजना बना रहा है
शिशु का जन्म
गर्भावस्था व्यायाम

दूसरे ट्राइमेस्टर में गर्भवती मां के लिए व्यायाम

Second-Trimester-Pregnancy-Exercises

दूसरे ट्राइमेस्टर में, आपको व्यायामों के प्रति अपने शरीर की प्रतिक्रिया पर रखनी होगी, और उसी अनुरूप अपनी शारीरिक गतिविधियों की अवधि और तीव्रता को बढ़ाना होगा। सुनिश्चित करें कि आप ऐसी कोई भी गतिविधि नहीं करेंगी  जो आपका संतुलन बिगाड सकती है जैसे की जिम्नास्टिक, टेनिस, स्केटिंग और हाइकिंग। इनकी जगह आप तैराकी, वॉटर एरोबिक्स अथवा स्टेशनरी बाइक आदि अपना सकती हैं जिनके लिए बहुत अधिक संतुलन की आवश्यकता नहीं होती। 

इस ट्राइमेस्टर के दौरान बॉल स्पोर्ट्स (सॉकर, बास्केटबॉल आदि) और कॉन्टैक्ट स्पोर्ट्स न खेलें। यदि आप योग करती हैं तो अब आपको बैकबेंड्स (पीछे के ओर शरीर मोड़ने का व्यायाम) और न ही कोई ऐसी गतिविधि करनी है जिसमें आपको अपने पेट या पीठ के बल लेटना पड़े, कूदना पड़े या औंधी मुद्रा में रहना पड़े। इस ट्राइमेस्टर के दौरान सावधानी बरतें, ओवरस्ट्रेच न करें और न हीं शरीर को झटका दें।

 Second-Trimester-Pregnancy-Exercises-1

रोचक आलेख

am-i-pregnant-354X354
गर्भावस्था 02/12/2019

अपने बीच के संबंधों को मजबूत बनाएँ

शोध से पता चलता है कि ज्यादातर नए माता-पिता पारंपरिक भूमिकाओं की ही कल्पना करते हैं, जिनमें पुरुष दाता और महिला देखभालकर्ता की भूमिका निभाते हैं और वे अपनी नई भूमिकाओं और जिम्मेदारियों की चर्चा नहीं करते। कई सारे नए माता-पिता अक्सर अपने...

Image
गर्भावस्था 24/01/2020

आप कितने हफ्तों से गर्भवती हैं?

आपको लगता है (आपको पता है) कि आप गर्भवती हैं! पर जब आप हफ्तों में इसकी गिनती करने की कोशिश करती हैं तो यह बहुत उलझन भरा हो सकता है। यह इसलिए क्योंकि डॉक्टर और दाई (मिडवाइफ) ने आपके "गर्भावस्था के सप्ताह” की गणना परंपरागत तरीके से आपके 40 हफ्ते...

Biểu đồ từ mang thai đến ngày sinh nở
सक्रिय शिशु 27/01/2020

रोते हुए शिशु को शांत करने के लिए

1.धैर्य महत्वपूर्ण है: यह प्रत्येक माता-पिता की सहज प्रवृत्ति होती है कि वह कठोर बनकर अपने शिशु को अनुशासित करने का प्रयास करते हैं, लेकिन माता-पिता के रूप में धैर्य रखना सबसे अच्छा होता है। 2. तैयारी: बाहर अथवा भ्रमण पर जाते समय, शिशु का ध्यान...

विषय के साथ आलेख