All categories
क्या मैं गर्भवती हूँ
Pregnancy - Week by Week Guide
गर्भवती हो रही है
गर्भावस्था आहार
सूचियां करने के लिए गर्भावस्था
एक बेबी शावर की योजना बना रहा है
शिशु का जन्म
गर्भावस्था व्यायाम

सी-सेक्शन के बारे में आपके जानने योग्य बातें

सीज़ेरियन प्रसव या सीज़ेरियन सेक्शन का अर्थ है कि आपके बच्चे का जन्म ऑपरेशन के जरिए होता है। सर्जन पहले आपके पेट में एक चीरा लगाते हैं, फिर गर्भाशय में और उस रास्ते शिशु को बाहर निकालते है।

ऐसा क्यों किया जाता है?

यदि आपको पहले से पता हो कि आपका सीज़ेरियन होना है, तब इसे इलेक्टिव सेक्शन कहा जाता है। सीज़ेरियन करने का निर्णय पहले से अथवा प्रसव के दौरान लिया जा सकता है, जो कि आपकी स्थिति के अनुसार ज़रूरत पर निर्भर करता है।

आपको इसकी आवश्यकता पड़ सकती है इसलिए कि:

  • आपके शिशु का सिर बहुत बड़ा हो, या आपका पेड़ू शिशु को जन्म देने में बाधा कर रहा हो।
  • आपका प्लेसंटा (अपरा) बहुत नीचे स्थित हो (जिसे प्लेसंटा प्रेविया कहते हैं) जो शिशु के निकास मार्ग को अवरुद्ध करता हो।
  • आपके जुड़वां या तीन बच्चे हों।
  • कुछ अन्य जटिलताएं हो सकती हैं  जैसे कि योनि की पहले कभी कराई गई सर्जरी।
  • आपका शिशु इस स्थिति में हो कि योनि प्रसव मुश्किल हो या संभव न हो।

प्रसव पीड़ा में जाने के बाद निम्नलिखित कारणों से आपका अनियोजित (जिसे एमर्जेंसी कहा जाता है) सेक्शन हो सकता है: 

  • आपका शिशु डिस्ट्रेस (ऑक्सीजन की कमी) का सामना कर रहा हो और आपकी प्रसव पीड़ा की स्थिति इतनी उन्नत न हुई हो कि फोरसेप्स या वेंटूस डिलिवरी अपनाई जा सके।
  • आपमें एक्लांप्सिया या गंभीर प्री-एक्लांप्सिया की स्थिति हो जो कि आप या आपके शिशु के लिए जोखिमपूर्ण हो सकती है। प्री-एक्लांप्सिया एक ऐसी गंभीर स्थिति है जो गर्भावस्था में होती है और इससे मां और बच्चा दोनों प्रभावित हो सकते हैं। यदि यह विकसित होकर एक्लांप्सिया में परिणत हो जाए तो जल्द प्रसव कराना पड़ सकता है
  • आप अचानक बीमार पड़ जाती हैं, या आपका रक्त चाप बहुत अधिक बढ़ जाता है।
  • आपकी प्रसव पीड़ा बहुत ही धीरे-धीरे बढ़ रही हो।
  • आप थक हो गई हों।
  • शिशु को गर्भ में अपनी स्थिति के कारण बाहर निकलने में दिक्कत हो रही हो और इस बात का पता पहले न चला हो।

यह कैसे किया जाता है?

  • आपको एक एनेस्थेटिक दिया जाएगा - स्पाइनल या एपिड्यूरल - जो आपको अपने ऑपरेशन की प्रक्रिया को महसूस कराए बिना जगा हुआ रखेगा। या कभी-कभी, आपको सामान्य एनेस्थेटिक दिया जा सकता है।
  • ठीक आपके प्यूबिक हेयर के ऊपर एक सीध में सर्जन पहले आपके पेट में फिर गर्भाशय में एक चीरा लगाते हैं।
  • कभी-कभी हाथ से या कभी फोरसेप्स की मदद से शिशु को बाहर निकालते समय आपको थोड़ा खिंचाव महसूस हो सकता है।
  • शिशु का नाभिनाल काट कर बांध दिया जाता है और फिर उसे आपको दिया जाता है (यदि आप सामान्य एनेस्थेटिक में न हो)।
  • प्लेसेंटा और झिल्लियां बाद में निकलती हैं और फिर डॉक्टर आपके चीरा लगे हुए भाग की सिलाई करते हैं।
  • प्रसव कराने में लगभग 10 मिनट लगते हैं और इसके बाद आपके चीरे की सिलाई करने में लगभग 30 मिनट लगते हैं।
  • कुछ दिनों तक आप काफी थकान महसूस कर सकती हैं और हो सकता है थोड़ा दर्द का भी अनुभव करें, खासकर गैस निकालते समय, जैसा कि किसी भी पेट के ऑपरेशन के बाद होता है।
  • आप हंसने या खांसने पर असहज महसूस करेंगी। आपको ऐसी दर्द-निवारक दवा दी जा सकती है जो स्तनपान कराने के दौरान सुरक्षित हो।

सीज़ेरियन के बाद आपकी अवस्था

शुरुआती दिनों में आपको थकान का अनुभव हो सकता है और योनि प्रसव वाली महिलाओं की तुलना में आपको एक या दो दिन अस्पताल में अधिक रुकने के लिए कहा जा सकता है। ये कुछ अन्य बातें हैं जिन्हें पहले से ध्यान में रखना चाहिए:

  • पेट में जमा वायु से असहजता।
  • पेट के उस स्थान पर पीड़ा जहां सिलाई की गई है।
  • हंसने या खांसने से भी आपको असहजता महसूस हो सकती है (आपको बताया जाएगा कि हंसने या खांसने के दौरान किसी भी दबाव से बचने के लिए अपने चीरे वाली जगह को कैसे सहारा दिया जाए)।
  • शुरू में शिशु को दूध पिलाने के लिए सही स्थिति में रखने में होने वाली कठिनाई के कारण आपको मदद की जरूरत पड़ सकती है, ताकि आप उसे अपने बगल में या लेटकर अपने शरीर के पास आराम से सटा कर रख सकें।
  •  शुरू में, आपके शरीर में एक छोटा सा ड्रेन फिट किया जा सकता है जिसमें चीरे वाली जगह से यदि कोई खून निकले तो वह उसे एकत्र लेता है। इसे आम तौर पर एकाध दिन में हटा दिया जाता है। आपकी बांह की नसों में भी एक ड्रिप लगाया जा सकता है जिसके जरिए शरीर से बाहर निकले द्रव की क्षतिपूर्ति की जाती है। शुरू में आप पेशाब करने के लिए खड़ी नहीं हो पाएंगी और इसलिए आपको या तो कैथेटर लगाया जाएगा या किसी की मदद से बेडपैन का उपयोग करना होगा।

आप कैसा महसूस करेंगी

सीज़ेरियन प्रसव की स्थिति में कभी-कभी महिलाओं को निराशा का सामना करना पड़ता है खास कर तब जबकि यह अप्रत्याशित हो। फिर, यदि शिशु ठीक हो तो उन्हें अपनी निराशा को लेकर अपराधबोध हो सकता है। आपके मित्र और परिजन सोचते हैं कि आपको केवल जिस चीज़ की चिंता करनी चाहिए वह है, शिशु का स्वास्थ्य , और जब शिशु सही-सलामत है तो आप इस बारे में क्यों फिक्र करें कि वह दुनिया में किस तरीके से आया?  लेकिन शायद आपको महसूस हो कि आपसे कुछ चूक गया - इसलिए अपने जीवनसाथी से और उन दूसरी मांओं से अपनी भावनाओं के बारे में बात करें जिनका सीज़ेरियन प्रसव हुआ हो। समय आने पर आप समझ जाएंगी कि जीवन की अन्य चीजों की तरह ही यहां भी सबकुछ योजना के मुताबिक नहीं होता। यदि आप नहीं जानतीं कि आपका सीज़ेरियन सेक्शन क्यों हुआ तो पूछें, क्योंकि इससे आपको अपनी भावनाओं में मदद मिलेगी और आप इस बारे में अधिक सकारात्मक बन पाएंगी।

INTERESTED ARTICLES

am-i-pregnant-354X354
गर्भावस्था 12/2/2019

अपने बीच के संबंधों को मजबूत बनाएँ

शोध से पता चलता है कि ज्यादातर नए माता-पिता पारंपरिक भूमिकाओं की ही कल्पना करते हैं, जिनमें पुरुष दाता और महिला देखभालकर्ता की भूमिका निभाते हैं और वे अपनी नई भूमिकाओं और जिम्मेदारियों की चर्चा नहीं करते। कई सारे नए माता-पिता अक्सर अपने...

WaysToCheckIfYouAreSuccessfullyPregnantBloodTestsHomePregnancyTests354X354
गर्भावस्था 1/24/2020

रक्त जांच और होम प्रेग्नेंसी टेस्ट

होम प्रेग्नेंसी टेस्ट इस आशंका की पुष्टि के लिए वे गर्भवती हैं या नहीं, होम प्रेग्नेंसी टेस्ट काफी वर्षों से ज्यादातर महिलाओं की पहली पसंद रही है। होम प्रेग्नेंसी टेस्ट सस्ते होते हैं, हरेक केमिस्ट की दुकान पर डिस्पोजेबल किट्स हाथों-हाथ उपलब्ध....

Asanas-for-new-mom-354X354
गर्भावस्था 1/20/2020

नई मां के लिए आसन

मां बनने के लिए आपको बधाई, आपका नन्हा शिशु आखिरकार अब आपके साथ है! पीठ के दर्द, प्रातःकालीन अस्वस्थता और निकले हुए पेट से अब आप मुक्त हैं। लेकिन अब थकान, जोड़ों का दर्द, सहनशीलता में कमी और नींद की कमी जैसे नए लक्षण प्रकट होते हैं। साथ ही,...

विषय के साथ आलेख