Baby poop information you need for your child's wellbeing

Join Huggies now to receive week by week pregnancy newsletters.
Back to पी और पू

शिशु मल के बारे में पूरी जानकारी।

2 min |

All You Need To Know About Baby Poop All You Need To Know About Baby Poop

आप माता-पिता होते हुए भी कभी-कभी यह नहीं समझ पाते कि आपके बच्चे के मल के बारे में जानना कितना ज़रूरी है। रंग और बनावट के साथ-साथ मल त्याग की अवधि आपको अपने बच्चे के स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ बता सकतीहै। यह जानना महत्वपूर्ण है कि क्या सामान्य है और कौन सी खतरे की घंटी है।

Huggies न्यूबोर्न डायपर में पहले से ज्यादा चौड़े वेस्टबैंड पॉकेट है जो जुलाब को सोखता है, और यह एक समस्या हमने आपके लिए हल कर दी है।अपने बच्चे को अनावश्यक रिसाव और अप्रिय एकाएक होने वाले मल से बचाने के लिएसही साइज़ का डायपर पहनाना ज़रूरी है।   

शिशु मल का विच्छेदन करना।

  • मेकोनियम आपके बच्चे का सबसे पहला मल है।
  • स्तनपान करने वाले शिशुओं का मल बीज और सरसों के दाने जैसा दिखता है।
  • बोतल से दूध पीने वाले बच्चों का मल टूथपेस्ट की तरह घनापन होता है।
  • पीलेहरे या भूरे जैसे कोई भी रंग पूरी तरह से सामान्य है।
  • मल का घनापन सबसे ज़रूरी होता है।
  • आमतौर पर मल मुलायम और मृदु होता है।
  • अगर शिशु के भोजन में उतार-चढ़ाव होता है, तो कब्ज हो सकता है।
  • अगर मल पतलापानी जैसा या श्लेष्म से भरा होऔर आवृत्ति अधिक हो तो उसे दस्त हो सकता है।
  • अपने डॉक्टर से परामर्श करें अगर निर्जलीकरण के कोई भी लक्षण जैसे सूखे होंठ, धंसी आंखें या दबा तालू (आपके शिशु के सिर पर मुलायम चित्ती) दिखाई दें ।
  • इसे पहले 24 घंटों में निकलने की आशा कर सकते हैं और फिर कुछ दिनों केबाद मल त्याग में सुधार होगा।
  • यदि आपके बच्चे के मल का रंग लाल/काला है तो यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल रक्तस्राव का संकेत है और अगर सफेद है, तो यह जिगर के रोग और/या पोषक तत्वों के बदहज़मी का संकेत हो सकता है।
  • एकस्तनपान करने वाला बच्चा हो सकता है कि हफ्ते में एक बार मल त्याग करे, अथवा कभी हर स्तनपान के बाद एक बार मल त्याग सकता है, दोनों सामान्य हैं। बोतल से दूध पीने वाले शिशु दिन में एक से चार बार मल त्याग सकते हैं।
  • अगर आपका शिशु बेचैन दिखता है, जब उसका मल टूथपेस्ट से गाढ़ा हो, या जो लकड़ी के टुकडे या गोली जैसा दिखता है, तो यह कब्ज का संकेत है
  • अगर कब्ज के बने रहने पर कुछ डॉक्टर मल को निकालने हेतु एक मिनट के लिए एक रेक्टल थर्मामीटर डालने की सलाह देते हैं।
  • मल त्याग की प्रक्रिया को और तेज़ करने के लिए आपके बाल रोग विशेषज्ञ द्वारा सपोज़िटरी का परामर्श दिया जा सकता है।
  • दस्त के कारणों में एंटीबायोटिक्स का सेवन, ज़रुरत से ज्यादा फलों के रस का पीना, दूध एलर्जी (जो सामान्यतः नहीं होता) या गैस्ट्रोएंटरराइटिस जो एक वायरल संक्रमण है जिसके कारण उल्टी और दस्त हो सकते हैं।
  • अपने शिशु को स्तन दूध, फार्मूला या पीडियाट्रिक इलेक्ट्रोलाइट घोल देकर अच्छी तरह से जलयोजित रखें।

जब ठोस आहार आरम्भ होता है

  • जब आपका शिशु 4-6 महीने के बीच ठोस आहार लेना शुरू करता है, उस समय शिशु के मल त्याग की अवधि में बदलाव की उम्मीद कर सकते हैं।।मल त्याग की अवधि कम होने लगती है, और मल ठोस होने लगता है।
  • अगर आपके शिशु का पहला आहार आयरन-युक्त चावल से बना खिचड़ी है तो कब्ज़ होने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। कब्ज को दूर करने के लिए आयरन-युक्त दलीया दें, या इसमें पिसा हुआ आलूबुखारा मिलाएँ।
  • कभी-कभी आपके बच्चे का मल बहुरंगी हो सकता है हां,इसकी संभावना है और इसे देखकर घबराने की कोई ज़रुरत नहीं इसका मतलब यह हो सकता है कि उसके भोजन में विभिन्न प्रकार की सब्जियां और फल शामिल थे औरयह सामान्यतः उसके मल में दिख सकता है।
  • चूंकि कई बार शिशु आहार को ठीक तरह से चबा कर नहीं खाते, इसलिए उनका पाचनतंत्र ऐसी चीज़ों को जल्दी से बाहर निकाल देता है।उनके मल में खाई हुई चीज़ें साबुत रूप में निकल जाती हैं, जैसे की मक्के के दाने। इसमेंचिंता करने की कोई बात नहीं।
  • जब आपका शिशु एक साल का हो जाता है तब कई तरह के ठोस आहार के सेवन से शिशु के मल के प्रकार में बदलाव आता है।आपका शिशु जो भी खाएगा उस हिसाब से उसके मल के गंध, रंग और बनावट में दिनभर भिन्नताहोगी।जल्द ही यह अधिक भूरा और गाढ़ा हो जाएगा, जैसे बड़ों का होता है। 

ध्यान दें: आपका शिशु भले ही बार बार मल त्याग  करे फिर भी सोने के पहले और खाने के बाद उसके डायपर ज़रूर बदलें।

बाथरूम या युद्धक्षेत्र?

  • एकांत की ज़रुरत और साफ़ डायपर इस बात का पहला संकेत है कि आपका बच्चा पॉटी-ट्रेनिंग के लिए तैयार है। इसलिएपोर्टेबल पॉटी खरीदें।
  • आपके बच्चे को मल से ज़्यादा पेशाब पर काबू पाने में आसानी होती है।
  • जब आपका बच्चा घुरघुराना करे या उसका चेहेरा लाल हो जाएतो यह मल त्याग के संकेत हैं।
  • कई शिशु नियंत्रण के डर से मल को रोक के रखते है और इस वजह से उनको दर्द होता है।
  • फलतः मल त्याग बच्चों के लिए एक मनोवैज्ञानिक युद्ध क्षेत्र बन जाता है, न कि एक साधारण सी शारीरिक प्रक्रिया।
  • अपने बच्चे के आहार में फाइबर मिलाएं।
  • उसे पॉटी पर हर दिन एक ही समय पर बिठाएं।