अपने बच्चे के भाषण विकास के बारे में सभी के तरीके

Back to शिक्षण और विकास

आपमें शिशुओं के साथ बातचीत का कौशल विकसित करने के लिए सुझाव।

आपमें शिशुओं के साथ बातचीत का कौशल विकसित करने के लिए सुझाव।
आपके नन्हे बच्चे ने अपना उत्साह दिखाना शुरू कर दिया है और सभी बातों को पकड़ने की कोशिश कर रहा है। आइए उससे बात करने के लिए कुछ सरल लेकिन प्रभावी तरीकों को जानें।

1.अपनी बात को छोटा, मीठा और सरल रखें
इस तरह से आपका नन्हा बच्चा भयभीत नहीं होगा बल्कि समझ जाएगा कि आप क्या कह रहे हैं। शायद, वह आपकी नकल भी करेगा और इससे सीखेगा।

2.अपने बच्चे के लिए भाषा का मॉडल प्रस्तुत करें
मॉडलिंग आपके बच्चे को भाषा सुनने और फिर इसका अभ्यास करने का मौका देती है।सरल वाक्यों का प्रयोग करें। वाक्य बस उतना ही लंबे होने चाहिए जितने आपके बच्चे के वाक्य होते हैं या उससे थोड़े से लंबे।यदि वाक्य बहुत कठिन होंगे तो आपके बच्चे द्वारा इसकी नकल करने या इसका उपयोग करने की संभावना नहीं होती है। 

3.अपने बच्चे के शब्दों में कुछ जोड़ें
आपके बच्चे ने जो कहा है उसमें नए शब्दों को जोड़ना उसे नए शब्दों को सीखने और शब्दों को कैसे जोड़ा जाता यह सीखने का उसे अवसर देता है।साथ ही,उसने जो भी बोला है उस पर सकारात्मक तरीके से प्रतिक्रिया दें।और जबकि वह शायद लंबे वाक्य दोहरा नहीं सकता है, लेकिन वह बाद में इसकी कोशिश कर सकता है।

4.उसे अधिक से अधिक मौका दें
प्रश्न पूछते समय, उसे उत्तर देने का विकल्प भी प्रदान करें। ऐसा करने से, आप एक ही साथ उसकी सफलता के मौके बढ़ाते हैं और भाषा का मॉडल भी प्रस्तुत करते हैं।

5.हमेशा याद रखें
प्रत्येक बच्चे की बात करने का कौशल विकसित करने की दरें भिन्न-भिन्न होती हैं।और आपको उसके हर प्रयास पर सकारात्मक प्रतिक्रिया देनी चाहिए। वह गलतियां करेगा लेकिन वह सीखने का एक हिस्सा है।इसलिए, उसकी तब भी प्रशंसा करें, क्योंकि वह दुबारा कोशिश करेगा। अपनी बात को दोहराएं क्योंकि बच्चों को शब्दों का उपयोग करने से पहले बार-बार उन्हीं शब्दों और वाक्यांशों को सुनने की आवश्यकता होती है।और जबकि हम इस पर जोर नहीं दे सकते ... बात करें, पढ़ें और अपने नन्हे के संग खेलें! उसकी बात हमेशा सुनें और उसका जवाब देना सुनिश्चित करें। और यह आपके बच्चे की बोलने की क्षमताओं को बढ़ाने का सबसे अच्छा नुस्खा है।